भारतीय स्टार फुटबालर सुनील छेत्री ने रिटायरमेंट का किया ऐलान

भारतीय फुटबाल टीम के कप्तान और स्टार फुटबालर सुनील छेत्री ने रिटायरमेंट का ऐलान कर दिया है. उन्होंने अपने सोशल मीडिया अकाउंट में एक वीडियो पोस्ट करते हुए रिटायरमेंट की घोषणा की. बता दें कि भारतीय टीम वर्तमान में फीफा वर्ल्ड कप क्वालीफायर मुकाबला खेल रहा है. जहां टीम ग्रुप ए में चार अंको के साथ दूसरे स्थान पर है. जबकि कतर पहले स्थान पर है. छेत्री ने अपने रिटायरमेंट का ऐलान करते हुए कहा कि कुवैत के खिलाफ मैच उनका आखिरी मैच है.

बता दें कि सुनील छेत्री ने हाल ही में भारत के लिए 150 वां मैच खेला था. वर्ष 2005 में डेब्यू करने वाले सुनील छेत्री ने देश के लिए 94 गोल किए हैं. छेत्री भारत के टॉप स्कोरर हैं. इंटरनेशनल करियर में वे स्टार फुटबालर क्रिस्टियानो रोनाल्डो और लियोनेल मेस्सी के बाद तीसरे नंबर पर हैं.

सुनील छेत्री ने जारी वीडियो में कहा कि वे उस दिन को कभी भुला नहीं सकते हैं जिस दिन उन्होंने देश के लिए पहली बार खेला था. उन्होंने बताया कि मैच से एक दिन पहले उनके कोच ने बताया था कि वे देश के लिए पहली बार खेलने जा रहे हैं. जिसके बाद उन्होंने मैदान में उतरने से पहले खास तैयारी की और अपनी जर्सी पर परफ्यूम भी छिड़का.

छेत्री ने कहा कि मैं पहला मैच कभी नहीं भूल सकता. उस दिन जो कुछ भी हुआ……नाश्ते से लंच तक, मेरा पहला गोल और 80वें मिनट में गोल गंवाना. ये सब कभी नहीं भूल सकता. इसके अलावा उन्होंने भारतीय फुटबाल के भविष्य को लेकर कहा कि अब देश को नौ नंबर की जर्सी के लिए अगला खिलाड़ी चुनना होगा.

सुनील छेत्री ने कहा कि हाल ही में उन्हें यह अहसास हुआ कि अब रिटायरमेंट का समय आ गया है. जैसे ही यह ख्याल आया, अतीत की सारी यादें मेरे दिमाग में चलने लगी. उन्होंने कहा कि जब मैंने रिटायरमेंट के बारे में अपने माता-पिता और पत्नी को बताया उनके मेरे पिता खुश थे, लेकिन उनकी मां और पत्नी रोने लगीं. छेत्री ने कहा कि मुझे भीतर से आवाज आई कि यह मेरा आखिरी मैच होना चाहिए और मैंने इसके बारे में बहुत सोचा.

सुनील छेत्री ने हासिल किए ये कीर्तिमान

सुनील छेत्री ने 150 अंतरराष्ट्रीय मैचों में 94 गोल किए हैं. जबकि 365 क्लब मैचों में 158 गोल किए हैं. उन्हें साल 2011 में अर्जुन पुरस्कार और 2019 में  पद्मश्री से सम्मानित किया गया था. छेत्री ने अपने अंतरराष्ट्रीय करियर की शुरुआत पाकिस्तान के खिलाफ की थी. वे सबसे ज्यादा अंतरराष्ट्रीय गोल (94) करने वाले चौथे खिलाड़ी हैं. जबकि सक्रिय खिलाड़ियों में वे क्रिस्टियानो रोनाल्डो, अली डेई और लियोनेल मेस्सी के बाद सबसे ज्यादा अंतरराष्ट्रीय गोल करने वाले तीसरे खिलाड़ी हैं.